आखिर इंटरनेट कैसे बना ? क्या आपने कभी सोचा

आखिर इंटरनेट कैसे बना ? क्या आपने कभी सोचा

                                                               image copyright
जी हाँ दोस्तों आज एक बार फिर हम आपके  बीच उपस्थित है एक नए विषय को लेकर जी हाँ आज हम इंटरनेट के बारे में चर्चा करेंगे की आज की इस जिंदगी में इंटरनेट हमारे जिंदगी का अहम हिस्सा बन चूका और बिना इंटरनेट के सभी स्मार्ट फोन और कम्प्यूटर लैपटॉप iphone  सब बेकार डब्बे है आइये पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं।

पहले के समय में इंटरनेट के उपयोगकर्ता बिलकुल ही कम थे लेकिन आज इसके अरबो लोग इंटरनेट का उपयोग करते है और बिना इंटरनेट के इनकी जिंदगी भी बेकार है और आने वाले समय में इसके और भी ज्यादा उपयोगकर्ता बढ़ जायेंगे और यहाँ पर इंटरनेट पे गूगल सर्च इंजन पे एक सेकंड में लाखो सर्च किये जाते है इसमें हर एक सेकंड में इंटरनेट पे वीडियो फोटोज को शेयर किया जाता है और हर एक सेकंड में ऑनलाइन लाखो करोड़ों रुपयों का ट्रांजेक्शन होता है यहाँ पर अगर 1 मिनट के लिए इंटरनेट को बंद कर दिया जाये तो पूरी दुनिया में हजारो लाखो करोड़ों का नुकसान हो जायेगा इसके बारे में हम सोच भी नहीं सकते यहाँ पे और भी कई चीजे है जो पूरी तरह इंटरनेट पे निर्भर है।

इनटरनेट क्या है और इसका क्या उपयोग है -

हम सभी अच्छी तरह से जानते है लेकिन यहाँ पर एक सवाल उठता है कि आखिर इंटरनेट का अविष्कार किसने किया और ये इंटरनेट कैसे शुरू हुआ इसके पीछे एक मजेदार बात है जी हाँ सन 1957  की जब सोवत यूनियन ने अपना पहला सेटेलाइट लॉन्च किया है और ये जो खबर थी बहुत तेजी से फेल गयी और ये खबर अमेरिका के पास पहुंची तो उन्हें लगा की ये कैसे हो गया और इस सेटेलाइट को लेकर अमेरिका और सोवियत के बिच में नोक झोक हो गयी और एक कॉल युद्ध शुरू हो गया इसके चलते अमेरिका के राष्ट्रपति ने 1958 में उन्होंने डपरा को बना दिया यहाँ पे अमेरिका के राष्ट्रपति को डपरा बनाने के पीछे मुख्य कारन था अपने राष्ट्र को विज्ञानं और तकनिकी दुनिया में सबसे आगे लाना ।

उस समय कंप्यूटर का आकार इतना बड़ा था की उसको रखने के लिए आपको पुरे कमरे की जरुरत पड़ती थी और आज के समय में छोटा लेपटॉप और कंप्यूटर होते है छोटी सी जगह में आ सकते है लेकिन उस वक्त बात करे तो तो कंप्यूटर इतना बड़ा थी की उसको रखने के लिए एक बड़े कमरे की आवश्यकता पड़ती थी तभी डपरा ने सोचा की एक मल्टीप्ल कंप्यूटर को जोड़ने के लिए एक नेटवर्क की जरुरत पड़ती थी
तो डपरा ने नेटवर्क को जोड़ने के लिए एक टेक्नोलॉजी कम्पनी का सहारा लिया जिसका नाम था BBN टेक्नॉलॉजी यहाँ पर इसने एक ऐसा नेटवर्क बनाया जो  चार अलग अलग कंप्यूटर जिनके सभी के अलग अलग ऑपरेटिंग सिस्टम थे उन चार कंप्यूटर को एक साथ  एक सिंगल नेटवर्क से कनेक्ट करना अब इस नेटवर्क का नाम दिया गया "अर्पानेट" तो ये नेटवर्क सबसे पहला नेटवर्क बना जिसमे इंटरनेट नियम को डाला गया और जो भी डेटा इंटरनेट हम आज की दुनिया में उपयोग कर रहे है वो सिर्फ अर्पानेट की ही देन है ।

Comments

Popular posts from this blog

आखिर आपके मोबाइल में क्या खराबी ऐसे पता करें

पुराने से भी पुराने मिटाये डाटा को रिकवर करें

क्या एक खराब मेमोरी कार्ड को ठीक किया जा सकता है